After a lovely chat time I had on Real
FM 97.5, I tried penning down a few lines on a
shy guy’s proposal to his beloved and the moments spent by him waiting for a ‘heartbreaking’
No or a ‘joyful’ Yes.
शुरू हुई जो कहानी वो पहली मुलाकात से,
आगे बढ़ी थी वो कहानी
जो बातों वाली रात से..
तेरे रूठने में भी अलग प्यार नज़र आता था,
तुझसे होने लगी थी मोहब्बत, तेरी
हर बात से..
दुआ करते हैं के सदा साथ हम तेरा यूँ ही निभायें,
तेरी ज़िंदगी में यूँ ही खुशियां हम लायें..
इक ख्वहिश है कुछ समय से दिल में मेरे,
अपनी ज़िंदगी को नाम तेरे हम यूँ ही कर जायें..
यह सुनके मेरी बात उसकी नज़रें झुक गई थी,
देखके यह नजारा दिल की हमारे धड़कन रुक गई थी..
हमें लगा के शायद एक दोस्त भी हमने खो दिया,
हर गुज़रते पल के साथ मेरी सांसें सूख रही थी..
यह सुनके मेरी बात शायद बुरा उसको लगा था,
उसको लगा के यह दोस्ती नहीं, शायद
कोई दगा था..
पर उठी उसकी नज़रें तो धीमे से मुस्कुरायी वो,
येह देखके एक खुशनुमा एहसास दिल में मेरे जगा था..
यह कहने में इतना समय क्यूँ तुमने लगाया,
पहली मुलाकात से तुमने मुझे अपना था बनाया..
उसके होठों से सुनके यह बात मैं हैरान था,
मुझे भी तुमसे प्यार है कहके उसने सीने से लगाया..
दिल की धडकन मेरी मुझसे बार बार कह रही थी,
जो मैने तुझसे कहा, वो बात एकदम सही थी..
जिस का नाम लेके तुमने मुझे तेज़ धडकना सिखाया,
उसके दिल की धडकन नाम तेरा ही ले रही थी..
जो मैने तुझसे कहा, वो बात एकदम सही थी,
उसके दिल की धडकन नाम तेरा ही ले रही थी..

I hope you liked it. Comments are
always welcome. 😀

9 thoughts on “A ‘Heartbreaking’ No or a ‘Joyful’ Yes!!”

Leave a Reply

Your email address will not be published.