In the last week of August, I attended the 2nd batch of Certificate Course on Derivatives organised by ICAI held at Centre of Excellence, Hyderabad. While the course content was really heavy on the mind, the time spent there in the company of fellow participants turned out to be an unforgettable one, something which I will cherish forever. I penned few lines narrating my emotions:

COE में जब आए थे हम, तो कोई ना साथ अपना था,
खेलेंगे कूदेंगे सब मिलकर, यह एक सोच एक सपना था,
पर कुछ पल गुज़रे और कई रिश्ते जुड़ गए,
अलग दिशा में चलने वाले एक ही तरफ मुड़ गए.

पहला दिन था और सुबह का खाना,
हमने एक दूसरे को था करीब से जाना,
स्टॉक मार्किट ने उस दिन सबको ऐसा धोया,
सबका पोर्टफोलियो उस दिन खून के आँसू रोया.

मेरी पगड़ी के रंग से मार्किट sentiment तय होने लगा,
इसी चक्कर में मैं रोज़ हरी पगड़ी पहनने की सोचने लगा,
अगले दिन सच्च में हमने यह विचार अपनाया,
स्टॉक मार्किट का sentiment ऐसे ही कुछ पॉजिटिव करवाया.

इसी बीच बग्गा जी ने आकर Put Call option समझाया,
Right है या Obligation, हमको सब Clear करवाया,
Volatile थी मार्किट और उसमें प्रैक्टिकल Real-time दिखाया,
एकदम से फिर धन्नो बोली,पर मेरे को यह समझ नहीं आया.

Derivatives की क्लास का फायदा रोमी ने खूब उठाया,
IDBI में पोजीशन लेके खूब चक्कर उसने चलाया,
प्रसाद जी ने भी आके Interest Rate Swap कराया,
Fixed to Floating, Floating to Fixed का पाठ सबको पढ़ाया,
Net Settle होता है Swap यह, जैसे ही यह फ़रमाया,
एकदम से फिर धन्नो बोली,पर मेरे को यह समझ नहीं आया.

आखरी दिन बैठे थे सिखने हम Hedge Accounting,
AS 30 तो क्या समझते, ना समझे एक भी Thing,
Hedge की Effectiveness टेस्ट करना था टास्क सबसे लार्ज,
कभी Hedge Reserve बनाओ तो कभी P&L में चार्ज.

DSC_0219

ब्रेकफास्ट टेबल पे सीखी हमने स्टॉक मार्किट की कलाकारी,
Dow Jones, SGX निफ़्टी सबका बुलेटिन हरीश जी करते थे जारी,
हैदराबादी ज़ायके की मिठास हमने यहाँ पर थी जानी,
पर मिठाई के स्वाद से अनजान रहे थे हमारे Mr. Poonjwani.

पराँठा और नारियल चटनी, combo बना था एकदम झक्कास,
मेस में dining table जोड़ जोड़के लाये हम सबको पास,
डिनर के बाद walk पे जाके खूब पचाया खाना,
DSLR से भी खिंचती है सेल्फ़ी, यह हमने शुभा से जाना.

DSC02742

गौरव देभाषिष ने दुबई से आके बैच को इंटरनेशनल बनाया,
और शशि का जन्मदिन भी हमने था यहीं मनाया,

DSC_0687
जयपुर की प्रिया ने क्लियर किया था First Attempt में सीए,
और हमारे साकेत बाबू ने थे आईआईएम रिजेक्ट किए.

DSC_0256

In-the-money कृष्णन को हमने हर फ़ोटो में पाया,
करिश्मा राजेश की जोड़ी खुश रहे, यह दुआ में फ़रमाया,
गॉडफ़ादर ने भी हमको Bloody ज़िन्दगी का पाठ पढ़ाया,
आगरे का पेठा विशाल, पर पेठा किसीको न खिलाया.

DSC_0012

टेबल टेनिस खेलते खेलते हम हुए इसके दीवाने,
टेबल पे खेलना छोड़कर हमने सब रूल्स थे माने,
Carrom खेलते पहुँचे फिर in बचपन from जवानी,
सबका एक ही लक्ष्य था, चाहिए तो बस वो रानी.

DSC_0072

हँसते मुस्कुराते दोस्तों दिन शनिवार का आया,
Exam Preparation Leave के नाम पे ICAI ने खूब डराया.

DSC_0609

हँसी मज़ाक के संग पढ़ते पढ़ते ही गुज़रा था यह दिन,
सब एक दूसरे को convince करते रहे, और कहा You Can Win.

DSC_0499

अगला दिन परीक्षा का था, आखिर वो दिन भी आया,
होना पड़ेगा अलग अब सबसे, दुख इस बात का सताया,
दोस्तों संग सुबह की चाय भी याद आएगी,
वो पाठशाला की मस्ती भी अब दिल को सताएगी.

DSC_0178

होंठों पे हँसी पर आँखें थी नम,
जब COE को अलविदा कह रहे थे हम,
ढेरों यादें थी साथ पर यही था ग़म,
अपने दोस्तों को आज अलविदा कह रहे थे हम,
रहेग यह रिश्ता कायम, है जब तक रूह में दम,
चाहे आज सबको अलविदा कह रहे थे हम.

Dedicated to all my Friends. 🙂

16 thoughts on “Derivatives ki Paathshaala”

  1. Amazing, but one wrong photograph. In the class, Om is there, but Harish is not there. Since you are writing about our class, I feel it is a wrong photo.

  2. Great!
    Phenomenal!
    Superb!
    Cool!
    Out Of Sight!
    Excellent!
    Unbelievable Work!
    Two Thumbs Up!

  3. It was a great job Simardeep. .last lines were touching… .it brought back all the memories..will cherish those moments for lifetime.

  4. Brilliantly put together simar! Great job..reading it just brings back a host a fond memories. Kudos!

  5. Memories are more memorable than often said. This is a magnificent composition of a very passionate personality – Simar. Your authorship and deep insights have taken me back in time. I shall read this piece always and cherish the amazing moments lived in the COE !! I heartily congratulate you for your artistry and thank you for this beautiful composition !!

  6. You are truly amazing..
    A wonderful surprise…suspense for full day …which deserve standing ovation

  7. You are truly amazing..
    A wonderful surprise at the end a day full of suspense … deserve standing ovation

  8. Beautifully written Simar !!! You are really talented !!!
    Exquisite showcase of how fun and learning goes hand in hand.
    You turned Centre of Excellence into Centre of Fusion and Creation.
    We wrote and bought lot of options, but this comes with no expiry, no premium and all group members emerge as winners.
    You touched all our hearts. Thumps Up !!!

  9. Tussi Cha gaye !!!
    Too good !! The way you have summarized the entire experience is very phenomenal !!
    Great !! This poem makes all of us go nostalgic of those 7 wonderful days !! Thanks !

  10. I wasn’t a part of it..! But after reading the experience in such a fantastic poetic manner..! I wish i was a part of it…!

Leave a Reply

Your email address will not be published.